विज्ञापन

नई दिल्ली।भारत ने पाकिस्तान जाने वाली तीन नदियों का पानी रोक दिया है।केंद्रीय जल संसाधन राज्यमंत्री अर्जुन मेघवाल ने कहा है कि-पाकिस्तान को जाने वाली तीन नदियों का पानी रोक दिया गया है।उन्होंने बताया कि-तीन नदियों के 0.53 मिलियन एकड़ फीट पानी को रोक कर इकठ्ठा किया जा रहा है।आपको बता दें कि-भारत ने कुछ सप्ताह पहले ही पाकिस्तान को जाने वाली नदियों का अतिरिक्त पानी रोकने की घोषणा की थी।कुछ दिन पहले ही केंद्रीय जल संसाधन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा था कि-वह इस बात की सिफारिश पीएम ऑफिस को भेजेंगे कि-पाकिस्तान जाने वाली नदियों का पानी रोका जाए।पुलवामा हमले के बाद इस बात की मांग जोर पकड़ने लगी थी कि-इस काम को जल्द अंजाम दिया जाए।अब केंद्रीय जल संसाधन राज्यमंत्री अर्जुन मेघवाल ने कहा है कि-पाकिस्तान की ओर जाने वाली तीन नदियों का पानी भारत ने रोक दिया है।रविवार को प्रेस से बात करते हुए केंद्रीय जल संसाधन राज्य मंत्री मेघवाल ने कहा कि-पाकिस्तान में बहने वाली पूर्वी नदियों का पानी रोक कर इसे संग्रहित किया गया है।जल संसाधन मंत्री ने कहा कि- राजस्थान और पंजाब को जरुरत के वक्त इस पानी का उपयोग करने की इजाजत दी जाएगी।

पाकिस्तान को बड़ा झटका
पुलवामा हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव काफी बढ़ गया है।आपको बता दें कि-इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान मारे गए थे।हमला पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने किया था।इसके बाद ने जबरदस्त एयर स्ट्राइक की जिसमें जैश के करीब 200 से 300 आतंकी मारे गए थे।केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने घोषणा की थी कि-सिंधु समझौते के तहत भारत अपने हिस्से का पानी पाकिस्तान जाने से रोकेगा।आपको बता दें कि-केंद्र सरकार के इस फैसले से सिंधु जल संधि पर असर नहीं पड़ेगा।बता दें कि- भारत ने केवल अपने हिस्से का वह पानी रोका है,जिसका इस्तेमाल नहीं हो पाता था और यह पाकिस्तान में चला जाता था। गौरतलब है कि भारत और पाकिस्तान के बीच 1960 में सिंधु जल समझौता हुआ था।यह समझौता भारत से पाकिस्तान में बहने वाली नदियों-ब्यास,रावी और सतलज के पानी को लेकर है।इसके तहत भारत को 3.3 करोड़ एकड़ फीट पानी मिलता है,जबकि पाकिस्तान को 80 करोड़ एकड़ फीट पानी की आपूर्ति होती है।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here