विज्ञापन

रायपुर।सेना और केंद्रीय पुलिस बल में कार्यरत छत्तीसगढ़ के निवासियों के लिए रविवार को सरकार की ओर से बड़ी घोषणा की गई।प्रदेश के शहीद सैनिकों की पत्नीओं को सरकारी नौकरी और उनके बच्चों को मुफ्त शिक्षा दी जाएगी।यह सुविधा सेना के साथ-साथ अर्द्धसैनिक बल के जवानों पर भी लागू होगी।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि-सेना और अर्द्धसैनिक बल में तैनात छत्तीसगढ़ निवासी की इंसर्जेंसी क्षेत्रों में ड्यूटी के दौरान मृत्यु होने पर राज्य सरकार न केवल उनकी पत्नीओं को सरकारी नौकरी देगी,बल्कि उनके बच्चों की कॉलेज तक की पढ़ाई का पूरा खर्च उठाएगी।मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इसके अलावा अगर कोई जवान ड्यूटी के दौरान जख्मी होने पर मेडिकली रिटायर कर दिया जाता है,तो उन्हें भी राज्य सरकार नौकरी देगी।मुख्यमंत्री बघेल ने यह भी कहा कि-बस्तर के प्रत्येक थाने में स्थानीय आदिवासियों की भाषा संबंधी परेशानीओं को देखते हुए एक दुभाषिए की नियुक्ति की जाएगी।इसके अलावा सेवानिवृत्त जस्टिस आफताब आलम की अध्यक्षता में पत्रकार सुरक्षा कानून समिति का गठन किया गया है,जिसकी अनुशंसाओं का सरकार पालन करेगी।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here