विज्ञापन

मुंबई|बॉलीवुड की हॉट अभिनेत्री सनी लियोनी की बायोपिक फिल्म ‘करनजीत कौर- द स्टोरी ऑफ सनी लियोनी’ में उनकी जिंदगी से जुड़े कई पहलू उजागर हुए थे।सनी ने बचपन में स्कूल में झेली तकलीफें हों या एडल्ट स्टार बनने से लेकर बॉलीवुड में एंट्री की कहानी, हर पहलू सबके सामने हैं।सनी लियोनी ने अपनी मर्जी से एडल्ट इंडस्ट्री में कदम रखा था। उनकी एंट्री हिट रही और उन्होंने सभी को पीछे छोड़ टॉप पो‍जीशन हासिल की।

सनी लियोनी जब 2013 में पेंटहाउस पेट ऑफ द ईयर चुनी गईं तो उनकी अमेरिका में बड़ी फैन फॉलोइंग हो गई। इस सबसे सनी पर तो पैसों की बरसात हो ही रही थी। साथ ही उनके भाई भी अपी पॉकेट मनी का खर्च सनी के जरिए निकालने लगे थे।उस समय सनी लियोनी की ऑटोग्राफ तस्वीर किसी के पास होना बड़ी बात थी। संदीप ने सनी के ऑटोग्राफ से खूब पैसे बनाए। संदीप हॉस्टल में अपने कमरे में सनी का साइन किया हुआ पोस्टर लगाते थे। इसके बाद जो भी कमरे में वह पोस्टर देखता, वह पोस्टर के बदले पैसे ऑफर करता। संदीप भी अपनी दोस्ती दिखाते हुए पोस्टर दे देते थे और अगले दिन कमरे में नया पोस्टर लगा लेते थे।

करनजीत से ऐसे बनीं सनी लियोनी

करनजीत को हटाकर सनी लियोनी नाम संदीप ने ही रखा था। सनी पेंटहाउस मैगजीन के लिए अपना न्यूड फोटोशूट करवा रही थीं। उस समय उनका नाम करनजीत कौर वोहरा था। डायरेक्टर ने कहा कि-इन फोटोज के साथ ये नाम सूट नहीं कर रहा। कोई और नाम रख लो। तब उनके भाई संदीप जिसे प्यार से ‘सनी’ बुलाते थे। उन्होंने करनजीत से तुरंत सनी नाम रख दिया। एक फेमस इटालियन डायरेक्टर सार्जिओ लियोनी के नाम पर सरनेम लियोनी रखा गया।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here