विज्ञापन

रायपुर|चिटफंड घोटालेबाजों की अब ख़ैर नहीं है क्योंकि भूपेश सरकार एक्शन लेने के मूड में है और इसके लिए DSP चिटफंड सेल का गठन किया गया है|चिटफंड घोटालों में लगभग 155 फर्जी कंपनियों ने 20 लाख परिवारों की गाढ़ी कमाई और 5 लाख 62 हज़ार एजेंट के परिवारों को छला है|इसमें हाईकोर्ट में 20 हज़ार पीड़ित परिवारों ने जनहित याचिका दायर की है|

विज्ञापन